PMSYM Yojana 2024 » Apply Online प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना आवेदन फॉर्म

PMSYM Yojana: प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना असंगठित श्रमिकों के लिए भारत सरकार की एक बहुत अच्छी पहल है जो असंगठित श्रमिकों की वृद्धावस्था में आर्थिक सुरक्षा और सामाजिक सुरक्षा के लिए है। प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना साल 2019 में शुरू की गयी थी यह योजना असंगठित क्षेत्रों के उन श्रमिकों के लिए एक श्रद्धांजलि है जो देश के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में लगभग 50% का योगदान करते हैं। ये असंगठित श्रमिक ज्यादातर घर-आधारित श्रमिक, स्ट्रीट वेंडर, मिड-डे मील वर्कर, हेड लोडर, ईंट भट्ठा श्रमिक, मोची, कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कामगार, धोबी, रिक्शा चालक, भूमिहीन मजदूर, कृषि श्रमिक, निर्माण श्रमिक, बीड़ी श्रमिक, हथकरघा श्रमिक, चमड़ा श्रमिक, दृश्य-श्रव्य श्रमिक या समान अन्य व्यवसायों में काम करने वाले स्वयं श्रमिक

के रूप में लगे हुए हैं। देश में असंगठित श्रमिकों की संख्या लगभग 42 करोड़ हैं।

Pradhan Mantri Shram Yogi Maanad

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना एक स्वैच्छिक और अंशदायी पेंशन योजना है जिसके तहत श्रमिक को 60 वर्ष की आयु हो जाने के बाद 3000 रुपये प्रति माह की न्यूनतम सुनिश्चित पेंशन प्राप्त होगी और यदि श्रमिक की मृत्यु हो जाती है, लाभार्थी का पति/पत्नी परिवार पेंशन के रूप में पेंशन का 50% प्राप्त करने का हकदार होगा। पारिवारिक पेंशन केवल पति-पत्नी पर लागू होती है।

योजना की परिपक्वता पर व्यक्ति 3000/- रुपये की मासिक पेंशन प्राप्त करने का हकदार हो जाता है। ये पेंशन राशि पेंशन धारक लाभार्थी को उनकी वित्तीय आवश्यकताओं की सहायता करने में मदद करती है।Pradhan Mantri Shram Yogi Maanad

Overview of PM Shram Yogi Maandhan Yojana

योजना का नाम प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना
योजना की घोषणा 01 फरवरी 2019
योजना की शुरुआत 15 फरवरी 2019
लाभार्थी असंगठित क्षेत्रो के श्रमिक
पेंशन राशि 3000 रूपये प्रति माह
जमा की जाने वाली राशि 55 रुपए से 200 रुपए प्रति माह
आवेदन का तरीका ऑनलाइन या ऑफलाइन
Official website maandhan.in

प्रधान मंत्री पेंशन योजना – 3000 हर महीने

18 से 40 वर्ष के आयु वर्ग के आवेदकों को 60 वर्ष की आयु होने तक प्रति माह 55 रुपये से लेकर 200 रुपये के तक (जितनी इच्छा हो) मासिक योगदान देना होगा। जैसी ही आवेदक 60 वर्ष की आयु का हो जाता है, तो वह पेंशन राशि का दावा कर सकता है। जिसके उपरांत प्रत्येक महीने एक निश्चित पेंशन राशि संबंधित व्यक्ति के पेंशन खाते में जमा कर दी जाएगी।

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए पात्रता मापदंड

    • आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी आनिवार्य है।
    • आवेदक की मासिक आय 15000 रुपये या उससे कम होनी चाहिए।
    • आवेदक असंगठित क्षेत्रो का कामगार श्रमिक होना चाहिए।
  • नोट: आवेदक संगठित क्षेत्र में कार्यरत (EPFO/NPS/ESIC के सदस्य) आयकर दाता नहीं होना चाहिए।

पेंसन योजना के लिए आवयशक दस्तावेज

  • आवेदन करता के पास आधार कार्ड होना अनिवार्य है
  • साथ ही आवेदन करता के पास IFSC डिटेल के साथ बचत बैंक खाता या जन धन खाता होना चाहिए।
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का पूरा पता
  • मोबाइल नंबर

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना की विशेषताएं

  • 3000 रुपये की सुनिश्चित पेंशन मासिक मिलेगी
  • जितना चाहे आप स्वैच्छिक रूप से 55 रू से 200 रू तक अपने मासिक अंश का चुनाव कर सकतेहै
  • जितना अंश आप डालेंगे उतना ही अंश भारत सरकार द्वारा योगदान के रूप में दिया जायेगा, जैसे अगर आप 55 रूपये मासिक अंश का चुनाव करते है तो ५५ रूपये ही भारत सरकार द्वारा आपके अकाउंट में डाले जायेगे

इनसे भी पढ़े :

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लाभ

पेंसन धारक की मृत्यु पर परिवार को लाभ

किसी भी पेंसन धारक की अगर मृत्यु हो जाती है तो उसका पति या पत्नी ऐसे पेंसन धारक द्वारा प्राप्त पेंशन का केवल पचास प्रतिशत पारिवारिक पेंशन के रूप में प्राप्त करने का हकदार होगा और ऐसी पारिवारिक पेंशन केवल पति या पत्नी पर लागू होगी।

पेंसन धारक की अपंगता पर लाभ

यदि किसी पेंसन धारक ने नियमित अंशदान दिया है और 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने से पहले किसी कारण से स्थायी रूप से अपग हो गया है, और इस योजना के तहत योगदान जारी रखने में असमर्थ है, तो उसका पति या पत्नी नियमित रूप से भुगतान करके योजना के साथ जारी रखने का हकदार होगा। इस तरह के अभिदाता द्वारा जमा किए गए अंशदान का हिस्सा, पेंशन फंड द्वारा वास्तव में अर्जित ब्याज या बचत बैंक ब्याज दर पर ब्याज, जो भी अधिक हो उस पेंसन का हकदार होगा।

पेंशन योजना छोड़ने पर लाभ

  • यदि कोई पात्र अभिदाता अपने द्वारा योजना में शामिल होने की तारीख से दस वर्ष से कम की अवधि के भीतर इस योजना से बाहर निकलता है, तो उसके द्वारा योगदान का हिस्सा केवल उस पर देय ब्याज की बचत बैंक दर के साथ वापस किया जाएगा।
  • यदि कोई पात्र अभिदाता अपने द्वारा योजना में शामिल होने की तिथि से दस वर्ष या उससे अधिक की अवधि पूरी करने के बाद, लेकिन साठ वर्ष की आयु से पहले बाहर निकलता है, तो उसका योगदान का हिस्सा केवल उस पर संचित ब्याज के साथ ही वापस किया जाएगा। पेंशन फंड द्वारा अर्जित या उस पर बचत बैंक ब्याज दर पर ब्याज, जो भी अधिक हो।
  • यदि किसी पात्र अभिदाता ने नियमित अंशदान दिया है और किसी कारण से उसकी मृत्यु हो गई है, तो उसका जीवनसाथी बाद में नियमित अंशदान का भुगतान करके योजना को जारी रखने का हकदार होगा या ऐसे अभिदाता द्वारा भुगतान किए गए अंशदान का हिस्सा संचित ब्याज के साथ प्राप्त करके बाहर निकलने का हकदार होगा जैसा कि वास्तव में पेंशन फंड द्वारा या उस पर बचत बैंक की ब्याज दर, जो भी अधिक हो, द्वारा अर्जित किया गया हो
  • ग्राहक और उसके पति या पत्नी की मृत्यु के बाद, कोष को वापस जमा किया जाएगा

प्रवेश आयु और मासिक योगदान

Entry Age (Yrs)
(A)
Superannuation Age
(B)
Member’s monthly contribution (Rs)
(C)
Central Govt’s monthly contribution (Rs)
(D)
Total monthly contribution (Rs)
(Total = C + D)
18 60 55.00 55.00 110.00
19 60 58.00 58.00 116.00
20 60 61.00 61.00 122.00
21 60 64.00 64.00 128.00
22 60 68.00 68.00 136.00
23 60 72.00 72.00 144.00
24 60 76.00 76.00 152.00
25 60 80.00 80.00 160.00
26 60 85.00 85.00 170.00
27 60 90.00 90.00 180.00
28 60 95.00 95.00 190.00
29 60 100.00 100.00 200.00
30 60 105.00 105.00 210.00
31 60 110.00 110.00 220.00
32 60 120.00 120.00 240.00
33 60 130.00 130.00 260.00
34 60 140.00 140.00 280.00
35 60 150.00 150.00 300.00
36 60 160.00 160.00 320.00
37 60 170.00 170.00 340.00
38 60 180.00 180.00 360.00
39 60 190.00 190.00 380.00
40 60 200.00 200.00 400.00

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए अप्लाई कैसे करे

  • प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरने से पहले आवेदक को अपने सभी दस्तावेजों जैसे आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, बैंक पासबुक, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ, इत्यादि लेकर निकटतम जनसेवा केंद्र पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपको सभी आवश्यक दस्तावेज़ जनसेवक केंद्र एजेंट को दिखाने होंगे ताकि एजेंट आप का प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का फॉर्म भर सके। फॉर्म भरने के बाद इसका प्रिंटआउट जरूर से निकलवा ले।
  • प्रिंटआउट को संभाल के रखे ताकि भविष्य में आप PMSYM योजना की स्थिति जाँच सकें।

PMSYM-Yojana-Online-Form

प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना का ऑनलाइन फॉर्म स्वयं कैसे भरें?

  • सब से पहले पहले आपको प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की आधिकारिक वेबसाइट (maandhan.in) पर जाना होगा।
  • होम पेज पर “क्लिक हियर टू अप्लाई नाउ” लिंक पर क्लिक करें और आपको Self Enrollment का ऑप्शन दिखाई देगा – क्लिक कर के आगे बढ़े।
  • अपना मोबाइल नंबर यहां पर दर्ज करें और Proceed बटन पर क्लिक कर दे।
  • अब आपको आवेदक का नाम, ईमेल ID, कैप्चा कोड भरने के बाद, आपके मोबाइल पैट OTP आएगा इसके माध्यम से आगे बढ़े।
  • इसके बाद आपको बाकि एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा और जरुरी दस्तावेज अपलोड करने होंगे।
  • आवेदन फॉर्म जमा करने के बाद इसका प्रिंटआउट अवश्य ले।

महत्वपूर्ण लिंक

Official Website  Apply Online

Related Jobs